728x90 AdSpace


  • Latest

    सोमवार, 5 जून 2017

    जौनपुर के शाही पुल से ये जलाल पुर का पुल लगभग १७५ साल पुराना है


    सिकंदर लोधी जब जौनपुर को तबाह कर के और हुसैन शाह शार्की को पराजित करके बंगाल चला गया तो उसने अपने लड़के जलालखा को को शार्की राज्य का प्रशासक बना दिया । लेकिन उस समय के हालात को देखते हुयी जलाल खा को जौनपुर में रहना उचित नहीं लगा और वो जौनपुर से १० किलोमीटर दूर पूर्व की ओर रहना पसंद किया और वहाँ पे एक महल बनाया और उस इलाक़े को अपने नाम पे जलालपुर नाम दिया और उसे रमणीक बनाने का   प्र त्न भी किया । सई नदी के किनारे उसने नौ  लाख का एक पथ्थर का पुल  का निर्माण करवाया । सिकंदर लोधी के बाद उसका बड़ा बेटा इब्राहिम लोधी गद्दी पे बैठा और उसने अपने भाई जलाल खा को जौनपुर से बुलवा लिया लेकिन  जलाल खा ने किसी  किसी भय के कारण उस आज्ञा का पालन नहीं किया और कालपी  भाग गया ।
    इब्राहिम लोधी ने फिर दरया  खा लोहानी को जौनपुर का प्रशासक  बना के के खुद कालपी जलाल खा के पीछे चला गया  । जौनपुर के शाही पुल  से ये जलाल पुर का पल लगभग १७५ साल पुराना है ।






    • Blogger Comments
    • Facebook Comments

    0 comments:

    एक टिप्पणी भेजें

    हमारा जौनपुर में आपके सुझाव का स्वागत है | सुझाव दे के अपने वतन जौनपुर को विश्वपटल पे उसका सही स्थान दिलाने में हमारी मदद करें |
    संचालक
    एस एम् मासूम

    Item Reviewed: जौनपुर के शाही पुल से ये जलाल पुर का पुल लगभग १७५ साल पुराना है Rating: 5 Reviewed By: एस एम् मासूम
    Scroll to Top