728x90 AdSpace


  • Latest

    गुरुवार, 1 जून 2017

    आज लीजिये बेबाक जौनपुरी और पवन विजय की गाई कजरी का मज़ा |



    रिमझिम रिमझिम घन घिर अइहो 
    मोरी जमुना जुड़इहें ना। 

    मद्धिम मद्धिम जल बरसइहो 
    मोरी जमुना अघइहें ना।  

    कदम के नीचे श्याम खड़े हैं 
    मुरली अधर लगाये  

    बंसिया बाज रही बृंदाबन
    मधुबन सुध बिसराये 

    हौले हौले पवन चलइहो 
    मोरी जमुना लहरिहें  ना।  

    रिमझिम रिमझिम घन घिर अइहो 
    मोरी जमुना जुड़इहें ना। 

    रस बरसइहो बरसाने में 
    भीजें राधा रानी 

    गोपी ग्वाल धेनु बन भीजें 
    भीजें नन्द की रानी 

    झिर झिर झिर झिर बुन्द गिरइहौ 
    मोरी जमुना नहइहें ना। 

    रिमझिम रिमझिम घन घिर अइहो 
    मोरी जमुना जुड़इहें ना। 
    डॉ पवन विजय

    Dr. Pawan Vijay and Kavi Bebak Jaunpuri
    Record by Yogi Arun Tiwari at Yogi Arun House at Manav Mandir Gurukul

    • Blogger Comments
    • Facebook Comments

    0 comments:

    एक टिप्पणी भेजें

    हमारा जौनपुर में आपके सुझाव का स्वागत है | सुझाव दे के अपने वतन जौनपुर को विश्वपटल पे उसका सही स्थान दिलाने में हमारी मदद करें |
    संचालक
    एस एम् मासूम

    Item Reviewed: आज लीजिये बेबाक जौनपुरी और पवन विजय की गाई कजरी का मज़ा | Rating: 5 Reviewed By: S.M.Masoom
    Scroll to Top