728x90 AdSpace


  • Latest

    बुधवार, 13 सितंबर 2017

    मुगल साम्राज्य के अंतिम बादशाह बहादुर शाह जफर का कोई विरोध नहीं हैं | ..डिप्टी सीएम डॉ दिनेश शर्मा

    जौनपुर। यूपी के डिप्टी सीएम दिनेश शर्मा आज जौनपुर में अमर शहीद उमानाथ सिंह के श्रद्धांजलि सभा में भाग लेने के बाद एक प्रेस कांफ्रेंस में कहा मुगल शासक लुटेरे थे, वो हमारे पूर्वज नहीं हैं और अब यही इतिहास लिखा जाएगा। उन्होंन इस प्रोग्राम में बताया कि यूपी सरकार पाठ्यक्रम में भी बदलाव करेगी। 30 प्रतिशत का बदलाव यूपी सरकार अपने हिसाब से करेगी।

     https://www.facebook.com/hamarajaunpur/
    उन्होंने कहा कि मुगल साम्राज्य के दौरान कई ऐसे शासक आये जिन्होंने इस देश की अस्मिता के साथ-साथ कई मंदिरों व खजानों को लूटने का काम किया था। जिसे हम सब कभी माफ नहीं कर सकते। वहीं कुछ शासक ऐसे भी थे जिन्होंने देश की आजादी के लिए अपना सबकुछ न्यौछावर कर दिया। हम उनका सम्मान भी करते है। मुगल शासक बाबर और औरंगजेब को लूटेरा बताते हुए कहा कि इनके शासनकाल में देश के कई कोनों में मंदिरों व अन्य स्थानों पर रखे खजानों को लूटने का काम किया गया था और इतिहासकारों ने इन्हें महान बताकर देश की जनता के साथ मजाक किया है।

    डिप्टी सीएम ने यहां कहा जिन मुगल शासकों ने गलत काम किया हैं हम उन्हें लुटेरे मानते हैं। जिन्होंने अच्छे काम किए हैं, उनकी हम प्रशंसा करते हैं। हमारी संस्कृति विध्वंसक नहीं हो सकती। इतिहास को भूलने से विकृति पैदा होती है।

    उन्होंने कहा कि मुगल साम्राज्य के अंतिम बादशाह बहादुर शाह जफर ने 1857 के इस जंगे आजादी के लिए अंग्रेजों के खिलाफ बिगुल फूंका था इसलिए उनका कोई विरोध नहीं है। यही नहीं उन्होंने अपने शासनकाल में गौ-हत्या पर पूर्ण प्रतिबंध लगाकर हिन्दू समाज का सम्मान बढ़ाया था। ऐसे में हम सब उनका सम्मान भी करते है। मुगल बादशाह अकबर अच्छे कार्यों की भी हम लोग सराहना करते है। 'हम सभी धर्मों का सम्मान करते हैं। मैं अपनी पूजा के साथ मजार, गुरुद्वारे और गिरजाघर भी जाता हूं। आज के आधुनिकता के दौर में हम अपने वास्तविक्ता को भूल रहे हैं।

    जिस संस्कृति में गद्दी के लिए पुत्र अपने पिता की हत्या तक कर देता हो, ताज को बनाने वालों के हाथ काट दिए जाएं, वह हमारी संस्कृति नहीं हो सकती। हमारी संस्कृति तो कलाकारों, वैज्ञानिकों को सम्मान देने की रही है। डॉ. कलाम जिन्होंने देश में सफल परमाणु परीक्षण किया, हमने उनका सम्मान किया।







    हमारी सरकार अपने वादों को पूरा करने के लिए पूरी तरह कटिबद्ध है व्यापार को बढ़ाने के लिए पूर्वांचल एक्सप्रेस वे पर जल्द ही योजना बनाकर कार्य शुरु किया जाएगा। पर्यटन की दृष्टिकोण से न सिर्फ काशी, अयोध्या और प्रयोग को जोड़ने का काम किया जाएगा बल्कि युवाओं को रोजगार भी मुहैया कराने के लिए हमारी सरकार कार्य कर रही है। हमारी धरोहर हमारी संस्कृति है उसे बचाने के लिए हम सब अपना सबकुछ बचाने को तैयार है। इसके पूर्व उन्होंने स्व. उमानाथ सिंह के चित्र पर पुष्प अर्पित कर श्रद्धांजलि अर्पित किया। उन्होंने कहा कि स्व. उमानाथ सिंह हमेशा गरीब बेसहारा लोगों की मदद के लिए खड़े रहते थे। तत्कालीन मुलायम सिंह की सरकार में जब पूरे प्रदेश में अराजकता का माहौल बना हुआ था उस समय उन्होंने अपनी जान की परवाह किये बगैर सड़कों पर नंगा नाच करने वालों शासन-प्रशासन के साथ-साथ सपा कार्यकर्ताओं से लोहा लिया और शहीद हो गये। उनकी शहादत का हम सब कभी भूला नहीं सकते। आज उनके पुत्र डा. केपी सिंह जिन्हें की आप लोगों ने यहां से सांसद चुना है उनकी अधूरे कार्य को पूरा करने में जुटे है।

    विशिष्ट अतिथि राज्यमंत्री गिरीश यादव ने कहा कि स्व. उमानाथ सिंह हमेशा कार्यकर्ताओं के साथ-साथ जनता की समस्याओं को दूर करने के लिए तत्पर रहते थे। आज हम सबको उनकी बहुत याद आ रही है। जिस तरह से उन्होंने अपने कार्यकाल में गरीब, बेसहाराओं की मदद की उसे कोई भुला नहीं सकता। विशिष्ट अतिथि पूर्वांचल विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. डा. राजाराम यादव ने भी अपनी श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए कहा कि उनके सपनों को पूरा करने के लिए हम सब कार्य कर रहे है। इस मौके पर सांसद रामचरित्र निषाद, भाजपा प्रदेश महामंत्री विद्या सागर सोनकर, पूर्व विधायक सुरेंद्र प्रताप सिंह, प्रबंधक अशोक कुमार सिंह, पूर्व विधायक सीमा द्विवेदी, विधायक रमेश मिश्र, दिनेश चौधरी, राजेश श्रीवास्तव बच्चा भइया सहित अन्य विशिष्ट लोग मौजूद रहे


    Become a Patron!
     Admin and Founder 
    S.M.Masoom
    Cont:9452060283
    • Blogger Comments
    • Facebook Comments

    0 comments:

    एक टिप्पणी भेजें

    हमारा जौनपुर में आपके सुझाव का स्वागत है | सुझाव दे के अपने वतन जौनपुर को विश्वपटल पे उसका सही स्थान दिलाने में हमारी मदद करें |
    संचालक
    एस एम् मासूम

    Item Reviewed: मुगल साम्राज्य के अंतिम बादशाह बहादुर शाह जफर का कोई विरोध नहीं हैं | ..डिप्टी सीएम डॉ दिनेश शर्मा Rating: 5 Reviewed By: S.M.Masoom
    Scroll to Top