728x90 AdSpace


  • Latest

    मंगलवार, 17 फ़रवरी 2015

    जानिये कैसा था जौनपुर का वैलेंटाइन डे ?


    पश्चिमी सभ्यता का असर पूरे भारतवर्ष में आज दिखाई देता है फिर जौनपुर इस से अछूता कैसे रह जाता | यहाँ के युवाओं में भी अब वैलेंटाइन डे का जोश देखने को मिला करता है लेकिन चूँकि इस इलाके में पश्चिमी सभ्यता का असर अभी पूरी तरह से नहीं हो पाया है इसलिए आज भी वैलेंटाइन डे का विरोध दर्ज किया जाता रहा है |

    इसीलिये इस दिन का शुरुआत में अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद ने पश्चिमी सभ्यता ‘वेलेंटाइन डे’ का विरोध करते हुये प्रतीक स्वरूप पुतला फूंककर जमकर नारेबाजी किया। इसके पहले नगर कार्यकारिणी सदस्य राज सिंह के नेतृत्व में सभी कार्यकर्ता सद्भावना पुल पर एकत्रित हुये जहां पश्चिमी सभ्यता सहित वेलेंटाइन डे का विरोध करते हुये मुर्दाबाद नारे के साथ पुतला फूंके।

      भारतीय संस्कृति व सभ्यता को नजरअंदाज कर पश्चिमी सभ्यता को हावी करने को लेकर विश्व हिन्दू परिषद, बजरंग दल, दुर्गा वाहिनी, अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद सहित अन्य संगठनों ने शनिवार को वेलेंटाइन डे मनाने वालों के खिलाफ अभियान चलाया। इन संगठनों ने जुलूस की शक्ल में शाही किला, वन विहार सहित पार्कों, रेस्टोंरेंटों, ढाबों, होटलों पर पहुंचकर पश्चिमी सभ्यता को अपनाने वालों को भारतीय संस्कृति व सभ्यता का पाठ पढ़ाया। बजरंग दल के विभाग संयोजक अजय पाण्डेय एवं विश्व हिन्दू परिषद के युवा शक्ति प्रमुख नागेन्द्र सिंह के संयुक्त नेतृत्व में बजरंगियों का एक विशाल जत्था निकलकर पूरे नगर का भ्रमण करते हुये शाही किला पहुंचा और पश्चिमी सभ्यता से लबरेज प्रेमी-पे्रमिकाओं को चेतावनी दिया।

    • Blogger Comments
    • Facebook Comments

    0 comments:

    एक टिप्पणी भेजें

    हमारा जौनपुर में आपके सुझाव का स्वागत है | सुझाव दे के अपने वतन जौनपुर को विश्वपटल पे उसका सही स्थान दिलाने में हमारी मदद करें |
    संचालक
    एस एम् मासूम

    Item Reviewed: जानिये कैसा था जौनपुर का वैलेंटाइन डे ? Rating: 5 Reviewed By: एस एम् मासूम
    Scroll to Top