728x90 AdSpace


  • Latest

    शुक्रवार, 16 मई 2014

    जौनपुर में आज यह है किसकी जीत का शोर और हुयी किसकी ज़मानत ज़ब्त|

    आज दिन भर लोगों का कोतुहल बना रहा की कौन जीत रहा है किसको कितना वोट मिलेगा ? जैसे जैसे समय गुज़रता गया भाजपा की जीत तय होती गयी और भाजपाइयों में उत्साह बढ़ता गया | जहां एक तरफ भाजपा वाले ख़ुशी मन रहे थे वहीँ बहुत मेहनत के बाद भी जनता का दिल ना जीत सकने का दुःख कांग्रेस प्रत्याशी रविकिशन के चेहरे पे देखा जा सकता था जिनकी ज़मानत ही ज़प्त हो गयी | जाते जाते रविकिशन ने अपना पैगाम दे दिया "मैं जौनपुर के मतदाताओं का आभारी हूँ क्योंकि पिछले दो महीने में आप लोगो ने भरपूर प्यार , इज्जत और सम्मान दिया। मैं कोई राजनेता नहीं जो हार से विचलित हो जाऊं या जीतने पर जश्न मनाऊं। मैं पहले भी सेवक था और आगे भी सेवक ही रहूँगा। मैं जनादेश का सम्मान करता हूँ और वादा करता हूँ आपकी सेवा में सदैव हाजिर रहूँगा क्योंकि मैं नेता नहीं जौनपुर का बेटा हूँ।"



    नरेन्द्र भाई मोदी की लहर ने विपक्षियों पर ऐसा कहर बरपाया कि जौनपुर सहित मछलीशहर सुरक्षित की सीट भी भाजपा की झोली में आ गयी। सुबह से शुरू हुई मतगणना समाप्त नहीं हुई थी कि भाजपा प्रत्याशियों के समर्थकों ने एक-दूसरे को बधाई देने के साथ ही मिठाई खिलाया एवं जगह-जगह ढोल-ताशे, नगाड़े, डीजे पर डांस भी किया। वहीं जौनपुर सदर व मछलीशहर के भाजपा प्रत्याशियों को माला-फूल से लादकर लोगों ने जमकर स्वागत किया जिस पर प्रत्याशियों ने सभी का अभिवादन स्वीकार किया।


    देर शाम को दोनों विजयी प्रत्याशियों को सुरक्षा के घेरे में लेकर जिला व प्रशासन ने उनके घर पहुंचाया जहां देर रात तक बधाई देने वालों का तांता लगा रहा। बीते 12 मई को सम्पन्न हुये मतदान के बाद ईवीएम में बंद प्रत्याशियों के भाग्य का फैसला शुक्रवार को चैकियां धाम के पास स्थित नवीन मण्डी परिषद में सुनाया गया जिसकी घोषणा करते हुये भाजपा प्रत्याशी सहित उनके समर्थकों में खुशी की लहर दौड़ गयी। सभी ने अपने-अपने अंदाज में एक-दूसरे को बधाई दिया तो जगह-जगह ढोल, नगाड़े, ताशे, डीजे आदि पर लोग नृत्य भी करते देखे गये। इतना ही नहीं, एक-दूसरे को मिठाई खिलाने के साथ ही जगह-जगह आतिशबाजी भी की गयी। उधर देर शाम को मतगणना की समाप्ति होने पर प्रेक्षकों सहित तमाम सम्बन्धित अधिकारियों के समक्ष जिला निर्वाचन अधिकारी ने विजयी भाजपा प्रत्याशी डा. कृष्ण प्रताप सिंह ‘केपी’ एवं रामचरित्र निषाद को प्रमाण पत्र दिया।


    जौनपुर संसदीय क्षेत्र के चुनावी इतिहास पर गौर करें तो भाजपा प्रत्याशी केपी सिंह को इस बार मिली जीत इस सीट की अब तक की सबसे बड़ी जीत है। उन्होंने अपने निकटतम प्रतिद्वंदी बसपा के सुभाष पांडेय को 1 लाख 46 हजार 290 वोट से परास्त कर यह रुतबा हासिल किया है। इसके पूर्व 1977 में जनता पार्टी के राजा यादवेंद्र दत्त दूबे ने जनता पार्टी की लहर में 99 हजार 872 व 1984 में कांग्रेस के कमला प्रसाद सिंह ने 81 हजार 523 मतों से रिकार्ड जीत हासिल की थी। इस चुनाव में मोदी नाम की सुनामी में रिकार्ड मतों से जीत के सारे रिकार्ड ध्वस्त हो गए।

    मछलीशहर के सपा सांसद एवं प्रत्याशी तूफानी सरोज की करारी हार को लेकर नगर पंचायत जफराबाद में नये एवं पुराने सपाजनों में दिन भर आरोप-प्रत्यारोप का दौर चला जो चर्चा का विषय बना है। जबकि ग़लती उनकी ही थी क्यूंकि लगातार 3 बार सांसद रहने के बावजूद उन्होंने जफराबाद क्षेत्र के विकास के लिये आज तक कुछ नहीं किया।

    मोदी की आंधी ने जौनपुर और मछलीशहर सीट पर ऐसा कहर बरपाया कि मछलीशहर सीट सपा से चुनाव लड़ रहे लगातार तीन बार से सांसद रहे तूफानी सरोज उड़ गए वही जौनपुर सीट पर निर्दल चुनाव लड़ रहे  सांसद धनंजय सिंह की जमानत ही जब्त हो गई ।






    जौनपुर की फाइनल लिस्ट|

    के पी सिंह बीजेपी 367149, सुभाष पाण्डेय बसपा 220839, पारस यादव सपा 180003, धनंजय सिंह वर्तमान सांसद 64137, के पी यादव आप प्रत्याशी 43471, रविकिशन कांग्रेस प्रत्याशी 42759, शाहबुद्दीन उलेमा काउंसिल प्रत्याशी 19636, रविकांत यादव निर्दल 20328, जोगिन्दर प्रसाद निर्दल 7281, प्रेमचंद बिंद मानव समाज पार्टी 6814, प्रमोद भाई पटेल परिवर्तन पार्टी 7206, अनुपति राम यादव बहुजन मुक्ति पार्टी 4026, योगेश चन्द्र दूबे निर्दल 2773, रविशंकर मौर्या एसयूवीआई 2608, अनिल सिंह निर्दल 2694, राजेश प्रजापति सर्वश्रेष्ठ दल 2329, अरविन्द भारतीय समाज पार्टी 2204, विमल कुमार यादव निर्दल 2109, सरफराज पीस पार्टी 2064, गुलाब दूबे शिवसेना 1751, संजीवन बिंद निर्दल1863, नोटा 2595.

    • Blogger Comments
    • Facebook Comments

    0 comments:

    एक टिप्पणी भेजें

    हमारा जौनपुर में आपके सुझाव का स्वागत है | सुझाव दे के अपने वतन जौनपुर को विश्वपटल पे उसका सही स्थान दिलाने में हमारी मदद करें |
    संचालक
    एस एम् मासूम

    Item Reviewed: जौनपुर में आज यह है किसकी जीत का शोर और हुयी किसकी ज़मानत ज़ब्त| Rating: 5 Reviewed By: S.M.Masoom
    Scroll to Top