728x90 AdSpace


  • Latest

    बुधवार, 12 अक्तूबर 2016

    जौनपुर में विसर्जित की गयीं आदि शक्ति की प्रतिमाएं |

      जौनपुर। जय माता दी की जयघोष के साथ भक्तों ने आदिशक्ति मां जगतजननी की प्रतिमाओं को विसर्जित कर दिया। इस दौरान जहां भक्तों ने अबीर-गुलाल उड़ाकर ढोल, ताशा, नगाड़े पर नृत्य किया, वहीं पूरे रास्ते भर भर लोग मकानों से माता रानी पर पुष्पवर्षा किये। इसके पहले श्री दुर्गा पूजा महासमिति के नेतृत्व में अहियापुर मोड़ पर खड़ी शोभायात्रा का शुभारम्भ जिलाधिकारी भानु चन्द्र गोस्वामी व आरक्षी अधीक्षक अतुल सक्सेना ने किया। इस दौरान अधिकारियों ने माता रानी की आरती उतारी एवं नारियल फोड़कर विधि-विधान से पूजा की। यहां से निकली शोभायात्रा के लिये तमाम स्वयंसेवी संगठनों द्वारा जगह-जगह स्टाल लगाकर हलुआ, चना, बताशा, काफी, चाय, पानी सहित चिकित्सा की समुचित व्यवस्था की गयी थी। कोतवाली चैराहे पर बने नियंत्रण कक्ष से पूरे मेले का संचालन सुशील वर्मा एडवोकेट कर रहे थे। नगर के प्रमुख मार्गों से होते हुये शोभायात्रा नखास स्थित विसर्जन घाट पहुंची जहां गोमती नदी के बगल में बनाये गये शक्ति कुण्ड में एक-एक करके सभी प्रतिमाएं विसर्जित की गयीं। जनपद ही नहीं, बल्कि पूर्वांचल के इस ऐतिहासिक पर्व को सम्पन्न कराने में जहां श्री दुर्गा पूजा महासमिति की भूमिका सराहनीय रही, वहीं सुरक्षा व्यवस्था की दृष्टिकोण से प्रशासनिक व पुलिस अधिकारी भारी लाव-लश्कर के साथ मौजूद रहे जबकि स्वयं जिलाधिकारी व पुलिस अधीक्षक मेले का चक्रमण करते नजर आये। कार्यक्रम को सम्पन्न कराने में महासमिति के संरक्षक सूर्य प्रकाश जायसवाल, विनोद जायसवाल, इन्द्रभान सिंह, शोभनाथ आर्य, विंध्याचल सिंह, श्रीकांत माहेश्वरी, पूर्व अध्यक्ष निखिलेश सिंह, महासचिव मनीषदेव, चन्द्र प्रताप सोनी, महेन्द्रदेव विक्रम, अनिल साहू, राजदेव यादव, मोती लाल यादव, विजय सिंह बागी, पुनीत पंकज, आनन्द अग्रहरि, लालचन्द्र निषाद, महेश जायसवाल, दीपक जायसवाल, मनीष गुप्ता, धीरज जायसवाल, निशाकांत द्विवेदी, विजय गुप्ता, राजन अग्रहरि, विष्णु गुप्ता सहित अन्य का सहयोग सराहनीय रहा। अन्त में अध्यक्ष शशांक सिंह रानू ने समस्त सहयोगियों के प्रति आभार व्यक्त किया। सुरक्षा व व्यवस्था की दृष्टिकोण से अपर आरक्षी अधीक्षक नगर रामजी सिंह यादव, क्षेत्राधिकारी नगर अमित राय, नगर मजिस्टेªट रत्नाकर मिश्र, उपजिलाधिकारी सदर आरके पटेल, नगर पालिका के अधिशासी अधिकारी संजय शुक्ल सहित अन्य उपस्थित रहे। विसर्जन घाट के प्रभारी बनाये गये थानाध्यक्ष जलालपुर विजय गुप्ता के नेतृत्व में उपनिरीक्षक विनोद यादव, सरायपोख्ता चौकी प्रभारी हरि प्रकाश यादव सहित तमाम आरक्षी लगाये गये थे।

    खेतासराय (जौनपुर)  12 अक्टूबर   मानीकला में मंगलवार की रात दुर्गा मूर्ति विसर्जन के दौरान पानी में शीशा धंसने से दो दर्जन से अधिक युवक घायल हो गये। तालाब की सफाई न होने से मूर्ति विसर्जन करने गये युवक आक्रोशित हो गये। पुलिस व प्रधान के समझाने बुझाने के बाद लोग शांत हुए।मानीकला में दस स्थानों पर स्थापित की गयी दुर्गा प्रतिमाओं का विसर्जन रात्रि आठ बजे एक साथ की जा रही थी। दुर्गा प्रतिमाओं के साथ सैकड़ों युवक जयकारा लगाते और नाचते गाते गांव के पूरब पक्का पोखरे पर पहुंचे।मूर्ति विसर्जन के लिये युवक जब पानी में उतरे तो उनके पैरों में शीशे के टुकड़े धंस गये।जिससे रंजन, सुबास चन्द्र, किशन, सुन्दर, मुकेश, राजा जायसवाल, सुशील, सिकन्दर, सचिन बिन्द, प्रदीप, कल्लू समेत दो दर्जन से अधिक युवक घायल हो गये।युवकों ने पानी के अन्दर सफाई की।सफाई के दौरान भारी मात्रा में टूटी बोतलें व उसके टुकड़े पोखरे से निकले।



     Admin and Owner
    S.M.Masoom
    Cont:9452060283
    • Blogger Comments
    • Facebook Comments

    0 comments:

    एक टिप्पणी भेजें

    हमारा जौनपुर में आपके सुझाव का स्वागत है | सुझाव दे के अपने वतन जौनपुर को विश्वपटल पे उसका सही स्थान दिलाने में हमारी मदद करें |
    संचालक
    एस एम् मासूम

    Item Reviewed: जौनपुर में विसर्जित की गयीं आदि शक्ति की प्रतिमाएं | Rating: 5 Reviewed By: एस एम् मासूम
    Scroll to Top