728x90 AdSpace


  • Latest

    सोमवार, 26 सितंबर 2016

    विश्व में जौनपुर जिले का नाम रौशन करते ये युवा |




    जिले के दो बेटो ने मिलकर ऐसा उपकरण तैयार किया है जो आप के सेहत ख्याल रखेगा ही साथ आगे होने वाली विमारियों से अवगत कराता रहेगा। ये दोनो छात्र आईआईटी खड़गपुर से पढ़ाई करते हुए रिसर्च करते हुए इस जीवन रक्षक यंत्र को बनाया है।  
    बदलापुर तहसील के ढेमा गांव निवासी अनिरूध तिवारी के पुत्र लक्ष्मीकांत तिवारी और शाहगंज तहसील के विशुनपुर गांव के निवासी कल्याणदत्त गुप्ता के पुत्र सत्यपाल गुप्ता इस समय खडगपुर आईआईटी कालेज में पढ़ाई कर रहे है। जिले के इन दोनो होनहार छात्रो ने रिसर्च किया है। दोनो छात्रो ने शिराज ए हिन्द डाॅट से फोन पर हुई वार्ता में बताया किभाग दौड़ भरी जिंदगी में अक्सर हम अपने स्वास्थ्य पर ध्यान नहीं दे पाते हैं, जिसके कारण कई तरह की बीमारियां होजाती हैं और बीमारी का पता चलने तक काफी देर हो चुकी होती है। जिसमें ज्यादातर बीमारियां कम नींद लेने या ठीक ढंगसे नहीं सो पाने के कारण होती हैं।


    विश्व स्तर पर रिसर्च करने से पता चलता है कि करीब 34 फीसदी लोग सोने से संबंधित बीमारी से ग्रस्त हैं। विश्व स्वास्थ्यसंगठन के हिसाब से 17.4 फीसदी मौतें सिर्फ स्वांस की बीमारी के कारण होती हैं और 40 प्रतिशत भारत के लोग 2020 तकहृदय से संबंधित बीमारियों से ग्रस्त हो जायेंगे। अगर इस तरह की गंभीर बीमारियों के बारे में समय रहते पता चल जाताहै, तो अकारण मौत के मुंह में जाने से लोगों को बचाया जा सकता है। इसी को ध्यान में रखते हुए एक ऐसे उपकरण काआविष्कार किया गया है, जो सोते समय भी आपके स्वास्थ्य की पूरी निगरानी करेगा और हर बीमारी की आहट को आपकेमोबाइल के जरिए आप तक पहुंचाएगा।

    दरअसल, IIT Kharagpur के छात्रों ने सबसे पहला प्रयास Technology और Happiness को आपस में जोड़ने का किया है,रिसर्च कर रहे छात्र लक्ष्मीकांत तिवारी ने बताया कि खुशहाल लोग जीवन को बड़ी आसानी से जीते हैं और बीमारियों केप्रभाव से दूर रहते हैं। हम सभी लोग अपने जीवन का एक तिहाई भाग सिर्फ सोने में बिताते हैं और जिन लोगों को रात मेंठीक से नींद नहीं आती है, वे लोग पूरे दिन थकावट महसूस करते हैं और कई बार work place पर ही सो जाते हैं। ऐसे लोगचिड़चिड़े भी हो जाते हैं और समाज में उनका व्यवहार भी सही नहीं होता, असल में इस प्रकार के लोग किसी न किसी प्रकारकी सोने से संबंधित बीमारी से ग्रस्त रहते हैं और उनमें से बहुत सारे लोगों को पता भी नहीं होता है।
     Prof. Aurobinda Routray के दिशानिर्देशन में काम कर रहे छात्रों ने तीन प्रकार की स्लीप मॉनिटरिंग डिवाइसेज इजादकिया है। उनकी पहली डिवाइस बेडशीट की तरह है, जिसको उपयोगकर्ता को अपने बेडशीट के नीचे सोने से पहले बिछानाहोगा। इस डिवाइस में एक विशेष प्रकार का सेंसर लगा है, जो उपयोगकर्ता के हृदय की धड़कन और स्वांस की गति कोनापता है। अगर उपयोगकर्ता को स्वांस या हृदय से जुड़ी कोई भी बीमारी है, तो ये विशेष प्रकार का सेंसर उसे पकड़ लेता हैऔर बीमारी से जुडी जानकारी उपयोगकर्ता के मोबाइल पर भेज देता है। इसके अलावा इसमें और भी तमाम प्रकार केसेंसर्स लगे हैं, जो आपके बेडरूम की हवा की गुणवत्ता, तापमान और ह्यूमिडिटी को भी नापता है।
     दूसरी प्रकार की डिवाइस भी उपयोगकर्ता को स्वांस या हृदय से जुड़ी बीमारी से अवगत कराता है, परंतु हृदय की धड़कनऔर स्वांस की गति को नापने का तरीका पूरी तरह से अलग है। इस दूसरे प्रकार कि डिवाइस को उपयोगकर्ता को बेडरूम मेंकहीं एक जगह दीवाल पर लगाना होगा। यह डिवाइस पूरी तरह से वायरलेस टेक्नोलॉजी पर आधारित है।
     तीसरी प्रकार की डिवाइस थर्मल इमेजिंग के सिद्धांत पर काम करती है, ये डिवाइस उपयोगकर्ता के शरीर के तापमान कोनापती है और उसी के आधार पर उपयोगकर्ता के स्टेट ऑफ स्लीप को पता कर लेती है।

     Admin and Owner
    S.M.Masoom
    Cont:9452060283
    • Blogger Comments
    • Facebook Comments

    0 comments:

    एक टिप्पणी भेजें

    हमारा जौनपुर में आपके सुझाव का स्वागत है | सुझाव दे के अपने वतन जौनपुर को विश्वपटल पे उसका सही स्थान दिलाने में हमारी मदद करें |
    संचालक
    एस एम् मासूम

    Item Reviewed: विश्व में जौनपुर जिले का नाम रौशन करते ये युवा | Rating: 5 Reviewed By: Unknown
    Scroll to Top