728x90 AdSpace


  • Latest

    सोमवार, 7 अप्रैल 2014

    बासंतिक नवरात्रि के अंतिम दिन भक्तों ने मत्था टेककर मांगी मन्नतें

    चैत्र नवरात्रि के अंतिम दिन सोमवार को पूर्वांचल की शक्तिपीठ मां शीतला चैकियां धाम सहित अन्य देवी मंदिरों पर लाखों भक्तों ने मत्था टेककर मन्नत मांगा। चैकियां धाम में सोमवार को उमड़ी भक्तों की भीड़ कतारबद्ध रही जहां से धीरे-धीरे मंदिर परिसर में पहुंचने पर माता रानी के दरबार में मत्था टेकी। पुरूषों की अपेक्षा महिलाआंे की संख्या कम नहीं थी जो पचरा गाते हुये माता रानी के दरबार की तरफ बढ़ रही थीं। मंदिर परिसर में घण्टे-घडि़यालों की गूंज व मां के जयकारों से पूरा माहौल देवीमय बना रहा। इस दौरान श्रद्धालुओं ने नारियल, चुनरी, माला, फूल, रोरी, रक्षा, धूप, अगरबत्ती, मेवा, फल चढ़ाने के साथ मंदिर परिसर में पूड़ी-हलवा की कढ़ाही भी किया। भोर में 4 बजे से उमड़ी भक्तों की भीड़ देर रात तक उमड़ी रही जहां दूर-दूराज के लोग शामिल रहे। यही स्थिति नगर के परमानतपुर स्थित शक्तिपीठ मैहर देवी मंदिर पर भी रही जहां सुबह से लगी भक्तों की भीड़ पूजा समाप्त होने तक डटी रही। दूर-दराज से आने वाले भक्तों के लिये मंदिर प्रांगण में जहां तमाम व्यवस्थाएं रहीं, वहीं दूसरी ओर पुलिसकर्मियों के अलावा स्काउट/गाइड के बच्चे मुश्तैदी से डटे रहे। इन मंदिरों के अलावा सिटी रेलवे स्टेशन के पास स्थित श्री मां आद्या शक्ति काली मंदिर, शाही पुल के पश्चिम बजरंग घाट पर स्थित विंध्यवासिनी मंदिर, नवदुर्गा शिव मंदिर विसर्जन घाट सहित अन्य देवी मंदिरों पर भक्तों की भारी भीड़ उमड़ी। वहीं दूसरी ओर देखा गया कि कुछ लोगों द्वारा अपने घरांे में स्थापित कलश की पूजा-पाठ कर नौ दिन के व्रत का उद्धापन किया गया तथा इसके साथ ही 9 कन्याओं का विधिवत् पूजा-पाठ कर उन्हें भोजन भी कराया।


    • Blogger Comments
    • Facebook Comments

    0 comments:

    एक टिप्पणी भेजें

    हमारा जौनपुर में आपके सुझाव का स्वागत है | सुझाव दे के अपने वतन जौनपुर को विश्वपटल पे उसका सही स्थान दिलाने में हमारी मदद करें |
    संचालक
    एस एम् मासूम

    Item Reviewed: बासंतिक नवरात्रि के अंतिम दिन भक्तों ने मत्था टेककर मांगी मन्नतें Rating: 5 Reviewed By: एस एम् मासूम
    Scroll to Top