• Latest

    मंगलवार, 4 अप्रैल 2017

    हमारा जौनपुर डॉट कॉम से जौनपुर में जन्मे योगाचार्य अरुण तिवारी की बात चीत |




    जौनपुर के प्रतिभाशाली लोग आज पूरी दुनिया में नाम कमा रहे हैं लेकिन उनके बारे में लोग कम जानते हैं | हमारा जौनपुर सोशल वेलफेयर फाउंडेशन अपनी वेबसाइट हमारा जौनपुर डॉट कॉम के माध्यम से समय समय पे आपको उनसे रूबरू करवाता रहता है |

    आज आपको मिलवाये हैं विश्व विख्यात योगाचार्य अरुण तिवारी जी से जिनका जन्म जौनपुर की बदलापुर तहसील के एक कुलीन परिवार में हुआ और अपनी प्राम्भिक शिक्षा के बाद उन्होंने अपना ध्यान योग और आयुर्वेद की तरफ लगाया और आज पूरी दुनिया में पहचाने जाते हैं |

    योगाचार्य अरुण तिवारी जी आचार्य रूपचंद्र महराज के शिष्य हैं | 

    हमारे सोशल मीडिया प्रभारी (Delhi Region) और हमारा जौनपुर सोशल वेलफेयर फाउंडेशन उपाध्यछ  डॉ पवन  विजय जी से बात चीत में योगी अरुण जी ने हमारा जौनपुर द्वारा किये जा रहे इस कार्य को बहुत सराहा और हमारा जौनपुर के प्लेटफ़ोर्म से जौनपुर वासियों को योग का ज्ञान देने और जागरूक करने का वादा किया | बहुत ही जल्द योगी जी के योग के विडियो आप सभी के सामने होंगे | योगी जी ने अपनी बातचीत में कहा की उन्हें अपनी मिटटी अपने जौनपुर से बहुत प्रेम है और वो चाहते  हैं की यहाँ के लोग योगा के महत्व को पहचाने और योग गुरु बन के पूरे विश्व में नाम कमाएं ,लोगों को सिखाएं | इस से बढ़िया और आसान रोज़गार का साधन कुछ  और नहीं हो सकता  |

    योगी जी ने बताया की संयुक्त परिवार का अपना ही मज़ा है और सुख मिलता है सबके साथ मिल के रहने का और जब भी वो देखते हैं हैं की कोई एकल परिवार है तो उन्हें बड़ा दुःख होता है | आप सभी इस बेहतरीन ज्ञान भरे योगी जी से बात चीत के   विडियो को अवश्य देखें और अपने योग के ज्ञान में वृधि करते हुए इसका पूरा फायदा उठाएं |
    ....एस एम् मासूम




     Admin and Founder 
    S.M.Masoom
    Cont:9452060283
    • Blogger Comments
    • Facebook Comments

    0 comments:

    एक टिप्पणी भेजें

    हमारा जौनपुर में आपके सुझाव का स्वागत है | सुझाव दे के अपने वतन जौनपुर को विश्वपटल पे उसका सही स्थान दिलाने में हमारी मदद करें |
    संचालक
    एस एम् मासूम

    Item Reviewed: हमारा जौनपुर डॉट कॉम से जौनपुर में जन्मे योगाचार्य अरुण तिवारी की बात चीत | Rating: 5 Reviewed By: S.M Masum
    Scroll to Top