• Latest

    शुक्रवार, 17 फ़रवरी 2017

    पांचो शिवाला पानदरीबा जौनपुर दीवान काशी नरेश बन्धुलाल के बनवाया था|

    पांचो शिवाला , पानदरीबा जौनपुर 



    यह मंदिर जौनपुर के पानदरीबा मोहल्ले में स्थित है जिसे दीवान काशी नरेश बन्धुलाल के बनवाया था । ये पहले वहाँ पे उप दीवान थे फिर जब  राजा चेट सिंह ने रियासत संभाली तो इन्हे दीवान बना दिया ।इन्होने दीवान रहते समय प्रचुर धन एकत्रित किया और जौनपुर के पुरानी बाजार इलाक़े में कुछ भवन और एक शिवाला बनवाया जिसमे से आज केवल शिवाला बचा है |

    इस शिवाले में पांच गुम्बद नुमा मंदिर बने हैं जो इस प्रकार से है की एक मुख्या मंदिर बीच में और किनारे चार कोनो पे अन्य चार मंदिर हैं | यहाँ की देख रेखा करने वाले तो पुराने लोग हैं लेकिन पुजारी पुराने नहीं है| आज कल इस मंदिर में स्कूल चला करता है और समय समय पे मंदिर में पूजा पाठ भी होती है | जहां तक मेरा अनुभव है यह जौनपुर का सबसे बड़ा शिव मंदिर है जिसे पानदरीबा इलाके में पहुँचते ही ऊंची गुम्बद से पहचान जा सकता है |




    • Blogger Comments
    • Facebook Comments

    0 comments:

    एक टिप्पणी भेजें

    हमारा जौनपुर में आपके सुझाव का स्वागत है | सुझाव दे के अपने वतन जौनपुर को विश्वपटल पे उसका सही स्थान दिलाने में हमारी मदद करें |
    संचालक
    एस एम् मासूम

    Item Reviewed: पांचो शिवाला पानदरीबा जौनपुर दीवान काशी नरेश बन्धुलाल के बनवाया था| Rating: 5 Reviewed By: S.M Masum
    Scroll to Top